आयुष्मान भारत Card 2022 रजिस्ट्रेशन | Online Apply Ayushman Bharat Yojana

WhatsApp Icon Join Our WhatsApp Channel

Ayushman Bharat Yojana इसे आप प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना भी कह सकतें हैं । इस योजना का उद्देश्य है आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को (जिनके पास बीपीएल कार्ड हो) उन्हे स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना। यह भारत सरकार द्वारा 23 सितंबर 2018 को पूरे भारत में सुरू की गई एक स्वास्थ्य योजना है। 2018 के बजट सत्र में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस योजना की घोषणा की थी। इस योजना के बारे मे अगर आपको जानकारी नहीं है और आप इसके बारे मे सारी जानकारी चाहते है तो आज आपको हम इस लेख के माध्यम से इस योजना की पूरी जानकारी दी जाएगी पूरी जानकरी के लिए आपको इसे आखिरी तक पढ़ना है |

Ayushman Bharat Yojana क्या है?

इस योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के गरीब लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने के उद्देश्य से की है। इस योजना के तहत देश के गरीब लोगों को प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है जिससे उन्हें मुफ्त इलाज की सुविधा मिल सकेगी। Ayushman Bharat योजना के तहत 10 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को कवर करने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के तहत सरकार की ओर से लाभार्थियों को विभिन्न बीमारियों का मुफ्त इलाज मुहैया कराया जाएगा।

अगर आप भी इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

PM Ayushman Bharat Yojana का उद्देश्य

गरीबी ये दुनिया के सभी देशो के लिए एक बड़ी परेशानी है ऐसे ही यह हमारे भारत के लिए भी परेशानी है और एक गरीब परिवार के लोगो के पास अपनी बड़ी बीमारी के इलाज का खर्च उठाने के लिए पैसे नहीं होते है | यही परेशानी को को देख कर हमारे प्रधान मंत्री मोदी जी ने PM Ayushman Bharat Yojana की शुरुवात की हैं, इसका उद्देश्य गरीब लोगो को बीमारी के इलाज के लिए सहायता प्रदान करना है | इस योजना के ज़रिये 5 लाख रूपए तक का स्वास्थ के लिए बीमा किया जाता है |

यह भी पढ़े-  क्या आप जानते हैं की IMPS क्या है? IMPS Meaning in Banking

Ayushman Bharat Yojana 2022 के लाभ

●        प्रधानमंत्री जन आयोग योजना के तहत लगभग 10 करोड़ परिवारों को इसका लाभ मिलेगा।

●        लाभार्थी को इस योजना के तहत कुल 5 लाख रूपए का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाएगा।

●        दवा का खर्चा, चिकित्सा का खर्चा आदि इस योजना में सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

●        इस योजना के तहत 1350 के लगभग बीमारियों को कवर किया गया है।

●        यह योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को कोई पैसे नहीं देना होते है |

●        यह योजना स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा संचालित है।

●        इस योजना के माध्यम से गरीब परिवारों को बीमारी के कारण कोई पैसा खर्च करने की आवश्यकता नहीं है। सरकार इस बीमा के साथ उनकी बीमारी की लागत को कवर करेगी।

PM Ayushman Bharat Yojana मैं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

●        जो लाभार्थी इस योजना का लाभ लेना चाहता है उसे पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा।

●        PM Ayushman Bharat Yojana के तहत आवेदन करने के लिए सबसे पहले लोक सेवा केंद्र (CSC) में जाएं और अपने सभी मूल दस्तावेजों की फोटो कॉपी/फोटोकॉपी जमा करें।

●        इसके बाद जन सेवा केंद्र के एजेंट द्वारा आपके सभी दस्तावेजों की जांच की जाएगी। जाँच करने के बाद हम योजना के तहत पंजीकरण सुनिश्चित करेंगे और आपको पंजीकरण प्रदान करेंगे।

●        इसके बाद 10 से 15 दिनों के बाद आपको जन सेवा केंद्र के माध्यम से Ayushman Bharat Golden Card प्रदान किया जाएगा। इस तरह आपका Ayushman Bharat Yojana में रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

Ayushman Bharat Yojana में अपना नाम कैसे देखें?

●        सबसे पहले आपको APY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। https://pmjay.gov.in/

●        यहाँ आपको होमपेज के मेन्यू बार में “AM I Eligible” का विकल्प दिखाई देगा, उस पर क्लिक करना है | यह विकल्प होमपेज पर टॉप बार में दिखाई देगा।

यह भी पढ़े-  Mutual Fund Investment Online | Best Mutual Fund in India 2022

●        इसके बाद एक नया पेज खुलेगा वहां आपको मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा, जेनरेट OTP के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

●        मोबाइल OTP वेरिफिकेशन के बाद आपको दो विकल्प दिखाई देंगे- पहले में आपको राज्य का चयन करना होगा और दूसरे विकल्प में आपको तीन श्रेणियां मिलेंगी जिसमें आप अपने मोबाइल नंबर, राशन कार्ड या अपने नाम से खोज सकते हैं। इन तीन श्रेणियों में से किसी एक का चयन करें और जानकारी दर्ज करके आगे बढ़ें।

●        फिर आप अपने द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर Ayushman Bharat योजना में अपना नाम ढून्ढ सकते हैं।

●        इसके अलावा एक और तरीका यह है की आप अपने नजदीकी लोक सेवा केंद्र (CSC) के माध्यम से उपलब्ध सभी आवश्यक दस्तावेज प्राप्त कर सकते हैं और Ayushman Bharat योजना के लिए जांच करवा सकते हैं।

Ayushman Bharat card कौन बना सकता है?

यह बात भी आप जान ले की आप रजिस्टर्ड (Registered) अस्पतालों में जाकर भी अपना हेल्थ कार्ड बनवा सकते हैं, इसके लिए सबसे पहले आपके पास अपने सभी जरूरी दस्तावेज होने चाहिए जैसे: आधार कार्ड, पैन कार्ड, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, राशन कार्ड की फोटो कॉपी, इसके साथ पासपोर्ट साइज के फोटो । अब अस्पताल के कर्मचारी आपका नाम स्वास्थ्य सूची में जांचेंगे, अगर आपका नाम सूची में है तो आपको आपका आयुष्मान गोल्डन कार्ड दे दिया जाएगा।

Ayushman Bharat card मे कौन-कौन से रोग शामिल है?

●        Ayushman Bharat Yojana के तहत हर परिवार को 5 लाख रुपये तक के स्वास्थ्य बीमा की सुविधा मिलती है।

●        पुरानी बीमारियों को भी इस योजना के तहत कवर किया जाता है।

●        अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद मे होने वाले सभी खर्च इस योजना मे कवर किए जाते हैं।

●        परिवहन पर होने वाला खर्च इलाज के दौरान भी शामिल है।

●        मेडिकल जांच, ऑपरेशन, इलाज आदि को इस योजना के तहत कवर किया जाता है।

जिनके पास Ayushman Bharat card है, मेडिकल जांच/ऑपरेशन/इलाज/दवा आदि का खर्चा इसके अंतर्गत आता है। अगर कोई व्यक्ति कार्ड मिलने से पहले ही बीमार है तो उसका इलाज भी इस योजना के तहत होगा। इन बीमारियों में मातृ स्वास्थ्य और प्रसव, नवजात और बच्चों का इलाज, कैंसर, टीवी, कीमोथेरेपी, रेडिएशन थेरेपी, हार्ट बाईपास सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, डेंटल सर्जरी, आंखों की सर्जरी, एमआरआई, सीटी स्कैन, हृदय रोग, किडनी लीवर, मधुमेह, कोरोनरी शामिल हैं। बाईपास, नी रिप्लेसमेंट, स्टेंट इंसर्शन, आंख, नाक, कान और गले के रोग आदि। साथ ही अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्चों को भी इसमें शामिल किया जा रहा है। इसमें परिवहन की लागत भी शामिल है।

यह भी पढ़े-  Demat Account Meaning in Hindi | Demat Account क्या होता है?

इन बीमारियों को कवर नहीं किया जाता है

ऐसे रोग जो प्राथमिक उपचार से ठीक हो जाते हैं या जिन्हें ओपीडी देखभाल की आवश्यकता होती है। उदाहरण के लिए, सामान्य बुखार, सर्दी, खांसी आदि।

Ayushman Bharat card से कौन से हॉस्पिटल में इलाज होता है

●        वेबसाइट pmjay.gov.in पर जाएं।

●        सामने जो पेज खुलेगा उस पर लेफ्ट साइड में Hospital पर क्लिक करें | अस्पताल खोजें नीचे दिखाई देगा। इस पर क्लिक करने पर सर्च हॉस्पिटल का नया पेज खुल जाएगा।

●        यहां आपसे उस अस्पताल के बारे में जानकारी मांगी जाएगी जिसमें आप इलाज करवाना चाहते हैं, जैसे की राज्य, जिला, किस प्रकार का अस्पताल यानी सार्वजनिक (सरकारी), निजी (गैर-लाभकारी) या निजी (लाभ वाली) और विशेषता (यानी आप जिस बीमारी से पीड़ित हैं) इलाज कराना चाहते हैं)।

●        इन जानकारियों को भरने के बाद जब आप अस्पताल के नाम पर क्लिक करेंगे तो ड्रॉप डाउन में उस जिले के अस्पतालों के नाम दिखाई देंगे। अस्पताल का चयन करें और कैप्चा दर्ज करें में कैप्चा कोड दर्ज करें। और खोज पर क्लिक करें।

●        इसके बाद उस अस्पताल में जिन बीमारियों का इलाज उपलब्ध है, उनकी सूची, फोन नंबर, ई-मेल आईडी और अस्पताल में उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी आपको दिखने लगेगी ।

क्या हर राज्य में यह योजना उपलब्ध है?

फिलहाल केवल 32 राज्यों और केंद्र-शासित प्रदेशों में यह योजना लागू है! फिलहाल यह ओडिशा, तेलंगाना और पश्चिम बंगाल में लागू नहीं है। ऐसे में इन राज्यों के लोग इसका फायदा उठा नहीं सकते। इस योजना की खास बात यह है कि जो राज्य इस योजना को लागू कर रहे हैं, उन राज्यों के लाभार्थी शेष 32 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के किसी भी सरकारी या सूचीबद्ध निजी अस्पतालों में इलाज करा सकते हैं।

क्या अस्पताल में भर्ती होना जरूरी है?

मरीज को इस सुविधा का लाभ लेने के लिए अस्पताल में भर्ती होना जरूरी है और कम से कम एक दिन के लिए।

यह भी पढ़े : अटल पेंशन योजना की पूरी जानकारी : Atal Pension Yojana in Hindi

यह भी पढ़े : Credit SCORE क्या होता है | CIBIL Score Meaning in Hindi

For NCERT Solutions Please visit www.educationforindia.com

Leave a Comment