Guru Purnima 2022 : जानिए इस साल की गुरु पूर्णिमा में क्या है खास?

इस साल गुरु पूर्णिमा का पर्व 13 जुलाई को मनाया जाएगा।

हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार महर्षि वेद व्यास का जन्म आषाढ़ मास की पूर्णिमा को हुआ था, इसलिए इसे व्यास पूर्णिमा भी कहा जाता है।

इसी दिन से ऋतुओं का परिवर्तन भी होता है। इस दिन शिष्य अपने गुरु की विशेष पूजा करते हैं।

आषाढ़ शुक्ल पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है।

ज्योतिषियों का कहना है कि गुरु पूर्णिमा के दिन गुरु की कृपा से धन, सुख, शांति और वैभव का आशीर्वाद मिलता है।

रुचिक, भाद्र, हंस और शश नाम के चार विशेष योग इस बार गुरु पूर्णिमा को खास बना रहे हैं।

गुरु पूर्णिमा के दिन गुरु को ऊंचे आसन पर बिठाएं। उनके पैरों को पानी से धोकर पोंछ लें

गुरु की पूजा कैसे करें?

फिर उनके चरणों में पीले या सफेद फूल चढ़ाएं।

इसके बाद उन्हें सफेद या पीले रंग के कपड़े दें। उन्हें फल, मिठाई दक्षिणा अर्पित करें।